नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? What is Network Marketing in Hindi

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? Multilevel Marketing क्या है? MLM क्या है? What is network marketing in Hindi? यह कैसे काम करता है? अगर आप इन सवालों के जवाब ढूंढ रहे हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं। यहाँ पर आपको नेटवर्क मार्केटिंग की पूरी जानकारी मिल जाएगी वो भी आपकी अपनी भाषा हिंदी में।  

आजकल जहाँ देखो वहाँ नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस की चर्चा हो रही है। मार्केट में कई सारी कंपनियां आ चुकी हैं जो की नेटवर्किंग के जरिये अपने प्रोडक्ट्स का सेल्स कर रही हैं और लोगों को भी पैसे कमाने का मौका दे रही है।    

आजकल लोग भी इस बिज़नेस में काफी दिलचस्पी ले रहे हैं, कई सारे लोग इसमें कामयाब भी हो रहे हैं और कई सारे युवा इस व्यापार में अपना करियर बनाने के लिए मेहनत भी कर रहे हैं। तो चलिए जानते हैं की आखिर ये नेटवर्क मार्केटिंग क्या होता है? और यह कैसे काम करता है? 

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? What is Network Marketing in Hindi

साधारण शब्दों में अगर कहें तो यहाँ नेटवर्क का मतलब है लोगों का समूह, और मार्केटिंग का अर्थ है किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार करना और सेल्स करना। नेटवर्क मार्केटिंग को MLM (Multi Level Marketing), Direct Selling Business आदि के नाम से भी जाना जाता है।

नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा बिज़नेस है जिसमे कंपनी और ग्राहक के बीच सीधा सम्बन्ध होता है यानि कंपनी अपना प्रोडक्ट सीधे ग्राहक तक पहुँचाने का प्रयास करती है और इससे मिडिल मैन (एजेंट आदि) का खर्च बच जाता है जिसे उन ग्राहकों में बाँट देती है। इस तरह की कंपनियां विज्ञापन पर बहुत कम खर्च करती हैं क्यों की इनके प्रोडक्ट का प्रचार स्वयं ग्राहक करता है और विज्ञापन का पैसे उनमे ही बाँट दिया जाता है।   

कोई कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार मुख्य रूप से दो तरीके से करती है:

  1. ट्रेडिशनल मार्केटिंग (पारंपरिक तरीका)
  2. नेटवर्क मार्केटिंग 

आइये जानते हैं की ट्रेडिशनल मार्केटिंग और नेटवर्क मार्केटिंग के बीच क्या अंतर है और इनके काम करने का तरीका क्या है?  

ट्रेडिशनल मार्केटिंग  

यह व्यापार करने का एक पुराना तरीका है जिसका उपयोग आज भी किया जाता है।  इस बिज़नेस मॉडल में फैक्ट्री से सामान सीधे उपभोक्ता तक नही पहुंचता है इनके बीच कई सारे लोग होते हैं जैसे C&F, डिस्ट्रीब्यूटर, होलसेलर, मार्केटिंग एजेंट, दूकानदार आदि। इन सभी का कमीशन उस प्रोडक्ट की कीमत के साथ जुड़े होते हैं इसके अलावा प्रोडक्ट के प्रचार के लिए विज्ञापन भी किये जाते हैं।

traditional marketing

यही वजह है की 30 रूपये कीमत की प्रोडक्ट ग्राहक तक पहुँचते-पहुँचते 100 रूपये की हो जाती है। यानि इस सिस्टम में 70% पैसे इन बीच के लोगों (middle man) को चले जाते हैं इसके अलावा इसमें से कुछ प्रतिशत उन फ़िल्मी सितारों को जाते हैं जो इसके लिए टीवी पर विज्ञापन कर रहे हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग 

जैसा की आपने देखा की ट्रेडिशनल तरीके से व्यवसाय करने वाली कंपनी को बहुत अधिक लागत की जरुरत पड़ती है क्योंकि उसे कई सारे लोगों को पैसे देने होते हैं और प्रोडक्ट प्रमोशन में मोटी रकम खर्च की जाती है। लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग का उपयोग करने वाली कंपनियां इस पूरे सिस्टम में खर्च हो रहे लगभग 70% पैसों को बचा लेती हैं और यही पैसे ग्राहकों में बाँट देती है

दरअसल नेटवर्क मार्केटिंग बिज़नेस मॉडल में लगभग सभी मिडिल मैन को हटा दिया जाता है इसलिए इनको जाने वाला कमीशन बच जाता है।  यहाँ पर प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग यूनिट यानि फैक्ट्री से निकलकर डिस्ट्रीब्यूटर के माध्यम से सीधे ग्राहकों तक पहुँचती है।

network marketing business in hindi

यही नही नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियां टीवी विज्ञापन भी नही करती हैं, प्रचार-प्रसार के लिए ये अपने ग्राहकों पर ही निर्भर होती हैं।

इस सिस्टम में कंपनी डिस्ट्रीब्यूटर और एसोसिएट्स बनाती है जो की अपनेआप में ग्राहक होते हैं और इन्हें खुद के खरीदे गये प्रोडक्ट्स पर कमीशन तो मिलते ही हैं इसके अलावा अगर ये अपनी तरह और ग्राहकों की टीम बना लेते हैं तो उन सभी के द्वारा ख़रीदे गये सामान पर भी कमीशन मिलते हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग कैसे काम करता है?

अब आपको यह तो समझ आ ही गया होगा की यह बिज़नेस लोगों का नेटवर्क बना कर किया जाता है, और इस नेटवर्क में अलग-अलग स्तर पर लोग जुड़े होते हैं और इसी लिए इसे Multilevel marketing यानि MLM कहा जाता है।

अगर नेटवर्क मार्केटिंग से अच्छी और unlimited इनकम करनी है तो आप ऐसा अकेले काम करके नही कर सकते इसके लिए आपको आपकी तरह के लोगों की टीम तैयार करनी होगी आपको अपने निचे लोगों का नेटवर्क बनाना होगा जिसे down-line कहा जाता है।

जब नेटवर्क बनाने की बात आती है तब लोगों को लगता है की यह बहुत मुश्किल काम है, लेकिन जरा सोचिये अगर आप अपनी कंपनी के प्रोडक्ट खरीद सकते हैं और उपयोग कर सकते हैं तो क्या दूसरे लोग ऐसा नही कर सकते? आपको बस ऐसे लोगों की तलाश करनी है।

अगर आप किसी MLM company में काम करते हैं तो आपको दो तरीके से कमीशन मिलेंगे:

  1. आपके द्वारा ख़रीदे गये या बेचे गये प्रोडक्ट से 
  2. आपके नीचे जुड़े हुए लोगों (down line) के द्वारा खरीदे गये या बेचे गये प्रोडक्ट से

अब बात आती है की आखिर नेटवर्क से जुड़े लोगों को कमीशन किस प्रकार से मिलता है। दरअसल इन सभी एसोसिएट्स की इनकम कितनी होगी इसका निर्धारण कंपनी के बिज़नेस प्लान या compensation plan के द्वारा होता है।   हर कंपनी के अपने-अपने बिज़नस प्लान होते हैं जिसके अनुसार associate के द्वारा बनाये गये नेटवर्क और सेल्स के आधार पर अलग-अलग लेवल और इनकम दिए जाते हैं।

नेटवर्क मार्केटिंग के क्या फायदे हैं? Benefits of network marketing in Hindi?

वैसे तो कई सारे फायदे हैं नेटवर्क मार्केटिंग और MLM के कई फायदे हैं लेकिन कुछ मुख्य advantages के बारे में अगर हम बात करें तो ये कुछ इस प्रकार हैं: 

  • खुद का व्यवसाय 
  • कम लागत 
  • समय की आजादी 
  • आर्थिक आजादी 
  • पैसिव इनकम 
  • जल्दी रिटायरमेंट 
  • व्यक्तित्व विकास 
  • अधिक पैसे कमाने का मौका 
  • नाम और शोहरत कमाना

उम्मीद है आपको Network Marketing Business in Hindi के इस आर्टिकल से समझ आ गया होगा की MLM Business और नेटवर्क मार्केटिंग क्या है और यह ट्रेडिशनल मार्केटिंग से कैसे अलग है, इसके अलावा आप यह भी जान गये होंगे की नेटवर्क मार्केटिंग के क्या फायदे हैं।  

यह भी पढ़ें:

नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों के नाम 

भारत में नेटवर्क मार्केटिंग की कई सारी कंपनियां हैं जिनमे से कुछ companies किसी अन्य देश से यहाँ आये हुये हैं तो कुछ कंपनियां ऐसी हैं जो भारत में शुरू हुई हैं और पूरे भारत के साथ-साथ विदेशों में भी डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस कर रहीं हैं।   भारत में प्रसिद्ध Network Marketing Companies की list हम निचे दे रहे हैं जिनमे उन कंपनियों को शामिल किया गया है जो की भारत में प्रसिद्ध हैं और लगातार आगे बढ़ रहीं हैं।   नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी लिस्ट:

  1. IMC
  2. Vestige
  3. Forever Living
  4. Mi Lifestyle
  5. Modicare
  6. AWPL
  7. RCM
  8. Herbalife
  9. Altos
  10. My Recharge 
  11. Amway
  12. Safe Shop
  13. Happy Health India

इनके अलावा और भी कई कंपनियां हैं जो की भारत में MLM business कर रही हैं। ये direct selling कंपनियां भारत में हजारो लोगों को रोजगार का अवसर दे रही हैं।   

यह भी पढ़ें: IDSA Network Marketing Company List in India – IDSA में रजिस्टर्ड कंपनियों की सूची

नेटवर्क मार्केटिंग कैसे शुरू करें?

नेटवर्क मार्केटिंग की सबसे अच्छी बात यह है की आप इसे कभी भी शुरू कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको एक सही नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का चुनाव करना होगा। इसके लिए आपको नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों के बारे में जानकारी हासिल करनी होगी। कंपनी चुनने के बाद आपको वह कम्पनी ज्वाइन करनी होगी।

डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी ज्वाइन करने के लिए आप उस कंपनी की वेबसाइट पर जा सकते हैं या उस कम्पनी में काम करने वाले किसी एसोसिएट से संपर्क कर सकते हैं। आप अपने आसपास के किसी सीनियर लीडर की टीम शामिल होने की कोशिश करें। इसके बाद आपको सेमिनार, वेबिनार, मीटिंग आदि में शामिल होकर बिज़नेस प्लान को अच्छी तरह समझना होगा।

आपको नेटवर्क मार्केटिंग की किताबें भी जरुर पढनी चाहियें इससे आपको लोगों से बात करने के तरीके और काम करने के तरीके आदि के बारे में अच्छी जानकारी मिलेगी। बिज़नेस समझने के बाद आप अपने अपलाइन (जिन्होंने आपको ज्वाइन कराया है) की मदद से काम शुरू कर सकते हैं।

आगे पढ़ें:

हमें उम्मीद है की “नेटवर्क मार्केटिंग क्या है What is network marketing in Hindi” इस विषय में लिखा गया यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। आप इसे सोशल मीडिया पर अपने मित्रों के साथ शेयर भी कर सकते हैं।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − fourteen =