डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन्स क्या है? Direct Selling Guidelines in Hindi PDF

भारत में डायरेक्ट सेलिंग बिजनेस का व्यवसाय बहुत ही तेज गति से आगे बढ़ रहा है और लोग इस क्षेत्र में करियर बनाकर लाभ उठा रहे हैं। अब भारत सरकार ने भी इसके लिए डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन जारी कर दिया है। यदि आप नेटवर्क मार्केटिंग करते हैं तो आपको इसके बारे में पता होना चाहिए इसलिए आज हम आपको इस गाइडलाइन्स की जानकारी हिंदी (Direct Selling Guidelines in Hindi) में दे रहे हैं।

भारत सरकार द्वारा डायरेक्ट सेलिंग करने वाले एसोसिएट्स और डायरेक्ट सेलिंग के जरिये प्रोडक्ट बेचने वाली  कंपनियों के लिए कुछ नियम और शर्तें निर्धारित किया गया है जिसे डायरेक्जिट सेलिंग गाइडलाइन्सस या MLM guidelines कहा जाता है। इसकी पूरी जानकारी निचे दी गयी है 
 

direct-selling-guidelines-hindi-pdf

What is Direct Selling Guidelines in Hindi?

जैसा की आपको पता है की डायरेक्ट सेलिंग और नेटवर्क मार्केटिंग (MLM) दुनिया के सबसे बेहतरीन बिज़नेस में से एक हैं इससे हर वर्ग का व्यक्ति चाहे वह अमीर हो या गरीब, चाहे वह नौकरीपेशा हो या बेरोजगार चाहे वह 18 वर्ष के उपर किसी भी उम्र का हो वह कम से कम लागत में मेहनत करके बेहतरीन इनकम कमा सकता है।

लेकिन कई लोग इस व्यवसाय में आने से डरते हैं, इसे फर्जी और scam मानते हैं और इसके पीछे सबसे बड़ी वजह है MLM के नाम पर धोखाधड़ी और ठगी। कई बार लोग सही जानकारी के आभाव में या लालच में आकर गलत और फर्जी कंपनी में पैसे देकर जुड़ जाते हैं और फिर उनके पैसे डूब जाते हैं।

इन्हीं सभी समस्याओं को सुझाने के लिए भारत सरकार ने कुछ फैसले लिए हैं और Network Marketing/ MLM या डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस के लिए कुछ नियम बनाये हैं जिसे ही Direct Selling Guidelines कहा जाता है।

आज हम इसी guidelines में दिए गये कुछ जरुरी नियमों से आपको अवगत कराएँगे। आप चाहें तो Direct selling guidelines की PDF भी download कर सकते हैं जिसकी लिंक निचे दी गयी है।

इसे भी पढ़ें:

अगर आप Direct Selling करते हैं तो इन नियमों का पालन करें

  • आपके पास identity card होना चाहिए, बिना परिचय के और बिना अनुमति के आपको किसी ग्राहक के घर या परिसर पर नही जाना चाहिए। आपको इस बारे में पहले से उन्हें सूचना देनी होगी।
  • डायरेक्ट सेलिंग और प्रोडक्ट का प्रदर्शन करने से पहले आपको अपना, अपनी कंपनी के बारे में और प्रोडक्ट के बारे में सही जानकारी देनी चाहिए है।
  • प्रोडक्ट की सही कीमत, रिटर्न पालिसी, गारंटी की पूरी और सही जानकारी देनी चाहिए।
  • आपको प्रोडक्ट बेचते समय ग्राहक को निम्न जानकारियाँ देनी होंगी:
    • आपका नाम, पता, कंपनी में रजिस्ट्रेशन नंबर
    • आपका फोन नंबर, पहचान पत्र
    • कंपनी के बारे में सही जानकारी 
    • आर्डर की तारीख, प्रोडक्ट का बिल कुल राशि सहित 
    • प्रोडक्ट का आर्डर रद्द करने पर वापस दिए जाने वाले रिफंड के बारे में
  • डायरेक्ट सेलर के पास उपभोक्ता को बेचे गये प्रोडक्ट, कीमत, मात्रा, आदि की पूरी जानकारी का रिकॉर्ड एक पुस्तिका में होना चाहिए।
  • आप किसी व्यक्ति को झूठ बोलकर, लालच देकर, भ्रामक प्रचार करके, बिज़नेस और कमाई के बारे में बढ़ा-चढ़ा कर झूठी जानकारी देकर ज्वाइन नही करा सकते।
  • डायरेक्ट सेलर जब चाहे आपकी कंपनी को छोड़ सकता है और उसके द्वारा लिए गये प्रोडक्ट या सर्विस को वापस करके रिफंड पा सकता है।
  • आप प्रोस्पेक्ट से ऐसे कोई वादे नही कर सकते जो कभी पूरे नही हो सकते।
  • भ्रामक और गलत तरीके से डायरेक्ट सेलिंग के बारे में प्रचार न करें।
  • आप ऐसी कोई भी जानकारी या पुस्तिका लोगों को नही दे सकते जो कंपनी द्वारा जारी न किया गया हो।
  • आप अपने द्वारा ज्वाइन किये गये डायरेक्ट सेलर या किसी ग्राहक को अधिक मात्रा में सामान खरीदने के लिए मजबूर नही कर सकते।

Direct Selling Company के लिए Guidelines

  • किसी भी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी के पास भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होना जरुरी है, कंपनी के पास जरुरी कागजात होने आवश्यक है।
  • कंपनी को अपने डायरेक्ट सेलर्स को अपनी पहचान और प्रमाण पत्र देने चाहिए।
  • अपने सारे डायरेक्ट सेलर्स को अपने डायरेक्ट सेलिंग के काम-काज, इनकम प्लान आदि के बारे में पूरी तरह से सही जानकारी देना चाहिए।
  • यह सुनिश्चित करें की कंपनी के प्रमोटर्स या टॉप मैनेजमेंट में शामिल लोगों के खिलाफ पिछले 5 सालों में कोई क्रिमिनल केस न चल रहा हो।
  • राज्य में क्षेत्राधिकार कार्यालय होना चाहिए जो, शिकायत के निवारण, प्रोडक्ट वापसी, रिफंड आदि का ध्यान रखे।
  • कंपनी को अपने सारे डायरेक्ट सेलर्स, उत्पाद/सेवाओं, कीमत, बिज़नस प्लान, खरीदी-बिक्री आदि की पूरी जानकारी के रिकार्ड्स होने चाहिए।
  • कंपनी की खुद की वेबसाइट होना चाहिए जिसमे प्रोडक्ट, सर्विस, इनकम प्लान, प्रमाण पत्र, कॉन्ट्रैक्ट आदि की पूरी जानकारी होनी चाहिए जो की हमेशा अपडेटेड हो। इसके अलावा शिकायत दर्ज करने की सुविधा भी होनी चाहिए।
  • यह भी सुनिश्चित करें कि ऐसी शिकायतें करने के 45 दिनों के भीतर शिकायतों का समाधान होना चाहिए।

पिरामिड स्कीम वाली कंपनी से बचें और इन बातों का ध्यान रखें

Pyramid Scheme क्या है? इसे आसान शब्दों में कहें तो ऐसी कोई कंपनी जो आपको recruitment यानि नये व्यक्ति की अपने नेटवर्क में joining के बदले पैसे देती हो तो वह पिरामिड स्कीम है जो की बिलकुल गलत है।
पिरामिड स्कीम वाली कंपनी जुड़ने या बिज़नस शुरू करने के नाम पर आपसे joining fee लेती हैं। जबकि यह guidelines के खिलाफ है। 
इस बात का ध्यान रखें भारत में पिरामिड स्कीम गैर कानूनी है और इनसे आपको बचना चाहिए। इसके अलावा किसी भी कंपनी से जुड़ने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखने जैसे:
  • सरकार के द्वारा जारी इस गाइडलाइन्स के अनुसार नये व्यक्ति की joining पर किसी प्रकार का इंसेंटिव या पैसे मिलने का कोई प्रावधान नही होना चाहिए।
  • MLM company आपसे जोइनिंग की फीस या registration fees नही ले सकते।
  • आपका बिज़नेस प्रोडक्ट या सर्विस पर आधारित होना चाहिए।
  • कोई भी आपको जरुरत से ज्यादा या अत्यधिक कीमत पर किसी सामान या सर्विस को खरीदने के लिए मजबूर नही कर सकता।
आप चाहें तो भारत सरकार द्वारा जारी किये गये Direct selling Guidelines की PDF भी डाउनलोड कर सकते हैं।
हमें उम्मीद है की आपको Direct Selling Guidelines in Hindi की यह जानकारी पसंद आई होगी, अगर इस विषय पर आपके मन में कोई विचार या सवाल हैं तो आप हमें निचे कमेंट करके सूचित कर सकते हैं।
आगे पढ़ें:

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 20 =